मध्यप्रदेश सोयाबीन की फसल मे देश मे सबसे आगे

Soyabean-Productionभोपाल: मध्यप्रदेश सोयाबीन के क्षेत्रफल और उत्पादन में पूरे देश में सबसे आगे है। पिछले साल सोयाबीन कुल 57 लाख 30 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बोया गया था, जो इस बार 58 लाख 12 हजार हेक्टेयर में बोया गया है। कृषि विभाग के सूत्रों ने बताया कि प्रदेश में इस वर्ष खरीफ फसलों की बोवनी 116 लाख 25 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में की गई है जो अनुमानित लक्ष्य 114 लाख 70 हजार हेक्टेयर क्षेत्र से अधिक है। पिछले वर्ष खरीफ 2011 में कुल 114 लाख 80 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में फसलें बोई गई थीं। उन्होंने बताया कि किसानों को समय पर खाद-बीज, दवाएं और अन्य साधन उपलब्ध करवाए जाने के कारण खरीफ फसलों का क्षेत्र बढ़ा है। धान की फसल 16 लाख 65 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में लगाई गई है। मोटे अनाजों में इस बार ज्वार का अनुमानित लक्ष्य 4 लाख 20 हजार हेक्टेयर के विरुद्ध 3 लाख 51 हजार हेक्टेयर में बोई गई है। मक्का अपने निर्धारित लक्ष्य 8 लाख 44 हजार हेक्टेयर से अधिक 9 लाख 4 हजार हेक्टेयर में बोई गई है।

सूत्रों के अनुसार दलहनी फसलों में तुअर 5 लाख 46 हजार हेक्टेयर, उड़द 6 लाख 59 हजार हेक्टेयर और मूंग एक लाख 16 हजार हेक्टेयर में बोई गई है, जो तय लक्ष्य और गत वर्ष की बोवाई से भी अधिक है। उन्होंने बताया कि मूंगफली का रकबा 2 लाख 25 हजार हेक्टेयर, तिल 2 लाख 68 हजार हेक्टेयर तथा रामतिल 78 हजार हेक्टेयर में होने का अनुमान है। रामतिल को छोड़कर सभी तिलहनी फसलें लक्ष्य की तुलना में अधिक बोई गई हैं। इनके अतिरिक्त केवल कपास ही उम्मीद से 50 हजार हेक्टेयर कम रहा, इसे 6 लाख 57 हजार हेक्टेयर में बोए जाने का अनुमान था, किन्तु कपास उत्पादक क्षेत्रों में वर्षा में हुई देरी के कारण बुआई प्रभावित हुई है।

Print Friendly



    Share


Facebook Page
Power Cut
अघोषित कटौती कुल null घंटे किसी भी समय

Check Your PNR

Ganjbasoda Poll

क्या गंजबासौदा जिला बनेगा ?

View Results

Loading ... Loading ...
:: Advertisement ::
:: Advertisement ::
:: Cricket Live Score ::
RDestWeb