○ अंबेडकर चौक पर खंभे से टकराई कार, कोई हताहत नहीं। ○ यातायात पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग करने के दौरान 21 वाहनो के चालान बनाकर 3400 रुपये का जुर्माना बसूल किया ○ घटेरा में आरोग्य भारती का नि:शुल्क चिकित्सा शिविर आयोजित, बच्चों में दिखे डायबिटीज के लक्षण,250 मरीजों को मिला उपचार ○ त्योंदा रोड से श्री शांतिनाथ जैन मंदिर की स्थापना दिवस के उपलक्ष में निकला पालकी चल समारोह

रक्तदान

By: एडिटर   5 September, 2012

रक्त सेवा समिति मध्यप्रदेश



रक्त सेवा समिति मध्यप्रदेश 12 अगस्त 2001 जन्माष्टमी के दिन ईश्वरीय प्रेरणा से प्रारंभ हुई है। समिति ने प्रारंभ से प्रचार-प्रसार से दूर रहकर सिर्फ रक्तदाताओं को प्रेरित किया और अपनी समिति के लिए योग्य स्थायी/रक्तदाता सदस्य बनाने का प्रयत्न करती रही। समिति की स्थापना के समय श्री अशोक गुडिया, श्री महेंद्र कुमार जैन, श्री के. के. शर्मा, श्री अनिल दुबे, श्री दिनेश तिवारी आदि सक्रिय रहे | समिति ने रक्तदान के प्रति फैली भ्रांतियों को दूर करने के लिए और रक्तदान के कार्य हेतु जन-जागृति के कार्य सतत् रूप से करने का संकल्प लिया है |

 समिति द्वारा निम्नलिखित कार्य स्वैच्छिक रक्त-दान हेतु जन-जागृति के लिए  किये जाते हैं :

१. प्रतिवर्ष सात दिवसीय निःशुल्क परीक्षण-शिविर लगाया जाता है, जिसमें नये रक्तदाता सदस्य बनाने का अभियान होता है | अभी तक लगभग 8500 लोगों का परीक्षण हो चुका है | इन रक्त-परीक्षण-शिविरों के प्रायोजक समिति के स्थायी सदस्य ही रहते आये हैं |

२. प्रत्यक्ष रक्तदान करके जन-जागृति का कार्य किया जाता है | रक्तदान-समिति के सदस्यों द्वारा भोपाल, विदिशा एवं बासौदा में रक्तदान किया गया है, जो जरूरतमंद मरीजों को दिया गया है | अभी तक लगभग 700 रक्तदाता सदस्य हैं एवं 8500 परीक्षण किये जा चुके हैं और 70 स्थायी सदस्य सक्रियता से कार्य में लगे हैं |

३. रक्तदाता-सदस्यों के परिवार को पुण्य-कार्य से जोड़ने के लिए सदस्यों के लिए परिवार-मिलन-कार्यक्रम किया जाता है, जिसमें स्थायी सदस्यों के परिजन सम्मिलित होते हैं और सांस्कृतिक एवं प्रेरणास्पद-कार्यक्रम, सामूहिक भोजन आदि होता है, जिससे समिति एक परिवार बनती है |

४. बच्चों एवं युवा-पीड़ी को इस सेवा-कार्य में जोड़ने के लिए एवं जागृति लाने के लिए रक्तदान विषय पर निबंध-प्रतियोगिता आयोजित की गयी जिसमें 315 भाई/बहिनों ने हिस्सा लिया |

५. जनजागृति के लिए समिति ने एक जागरूकता-रैली का आयोजन भी 2003 में किया था, जिसमें 350 बंधु सम्मिलित थे |

६. समिति प्रतिवर्ष 15 अगस्त और 26 जनवरी का पर्व भी अपने कार्यालय में बड़े धूम-धाम से मानती है |

७. समिति ने पर्यावरण-संरक्षण करने के लिए वृक्षारोपण एवं बेतवा-सफाई-अभियान में भी सहयोग किया है | गौ-सेवा का कार्य भी किया है |

८. कुपोषित बच्चों के, ग्राम नहारिया, खजूरी में जाकर, निःल्क सामग्री का वितरण, स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने का कार्य समिति ने किया था |

 ९. गरीबी-उन्मूलन एवं सामाजिक कुरीतियों को मिटाने के लिए निःशुल्क सामूहिक सर्वसमाज-विवाह-सम्मलेन का नगर में विशाल आयोजन होता है, उसमें भी समिति के सभी बंधु पूर्ण सहयोग करते हैं | इस प्रकार रक्त-सेवा-समिति राष्ट्रीय, सामाजिक, स्वास्थ्य, शिक्षा, सेवा के विभिन्न कार्यों में संलग्न है |

१०. समिति ने पर्यावरण-संरक्षण करने के लिए वृक्षारोपण एवं बेतवा-सफाई-अभियान में भी सहयोग किया है | गौ-सेवा का कार्य भी किया है |

११. कुपोषित बच्चों के, ग्राम नहारिया, खजूरी में जाकर, निःशुल्क सामग्री का वितरण, स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने का कार्य समिति ने किया था |

१२. गरीबी-उन्मूलन एवं सामाजिक कुरीतियों को मिटाने के लिए निःशुल्क सामूहिक सर्वसमाज-विवाह-सम्मलेन का नगर में विशाल आयोजन होता है, उसमें भी समिति के सभी बंधु पूर्ण सहयोग करते हैं | इस प्रकार रक्त-सेवा-समिति राष्ट्रीय, सामाजिक, स्वास्थ्य, शिक्षा, सेवा के विभिन्न कार्यों में संलग्न है |


राजेश तिवारी
संस्थापक
रक्त-सेवा-समिति गंजबासोदा
जिला विदिशा, मध्यप्रदेश


रक्त सेवा समिति की आधिकारिक वैबसाइट- http://www.raktsewasamiti.com/ है।

Print Friendly

    Share


Facebook Page
Power Cut
अघोषित कटौती कुल 1 घंटे किसी भी समय

Check Your PNR

Ganjbasoda Poll

क्या गंजबासौदा जिला बनेगा ?

View Results

Loading ... Loading ...
:: Advertisement ::
:: Advertisement ::
:: Cricket Live Score ::
RDestWeb