स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री प्रवीर कृष्ण ने जिला चिकित्सालय का जायजा लिया

By: Ravikant Upadhyay   16 December, 2012

praveer-krishna-sudden-inspection-city-civilhostipat-vidishaगंजबासोदा-विदिशा : स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री प्रवीर कृष्ण ने शनिवार को विदिशा चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण किया और कलेक्टेट के सभाकक्ष मंे स्वास्थ्य योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य योजनाओं के क्रियान्वयन में प्रगति हासिल नही करने वाले खण्ड चिकित्सा अधिकारियों एवं संबंधित योजना के प्रभारियों की तीन-तीन वेतन वृद्धि रोकने और उन्हें शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश विभाग के संयुक्त संचालक को दिए। इससे पहले उन्होंने जिला चिकित्सालय में पहुंचकर अनेक वार्डो का जायजा लिया और अस्पताल की साफ-सफाई एवं डेªनेज संबंधी कार्य शीघ्र कराने के निर्देश दिए। उनके द्वारा सफाई पर विशेष बल देते हुए संबंधित ऐजेन्सी को हिदायत दी गई कि विशेष अभियान चलाकर जिला चिकित्सालय के कक्षो, शौचालयों एवं गलियारों इत्यादि की साफ-सफाई शीघ्र सम्पादित की जायें इसके लिए उन्होंने सफाईकर्मियों की संख्या 10 से बढ़ाकर 50 करने के निर्देश दिए।
प्रमुख सचिव श्री प्रवीर कृष्ण ने शहरी क्षेत्र के बस्तियों मंे टीकाकरण जैसे कार्य के लिए अतिरिक्त कर्मचारी रखने, जननी एक्सप्रेस का लाभ संबंधितों को शत प्रतिशत दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जननी एक्सप्रेस निःशुल्क उपलब्ध कराई जाती है कि जानकारी आमजनों तक पहुंचे साथ ही उनके द्वारा काॅल किया जाता है तो अविलम्ब उपलब्ध कराई जायें इस कार्य में यदि किसी वाहन चालक द्वारा लापरवाही बरती जाती है तो उसकी मासिक किराये की आधी राशि काटने की कार्यवाही की जायें और पुनः लापरवाही बरती जाती है तो अनुबंध समाप्त करने की कार्यवाही की जायें। उन्होंने एक जनवरी से टीकाकरण कार्यो की जानकारी एमटीएस कार्ड पर अंकित कर उसे कम्प्यूटर में दर्ज किया जायें। चिकित्सगण सप्ताह में कम से कम दो दिन ग्रामीण क्षेत्रो का भ्रमण कर स्वास्थ्य योजनाओं की जानकरी हासिल करें साथ ही सेक्टरों आफीसरों को वाहन उपलब्ध कराया जाये ताकि वे अधिक से अधिक ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर स्वास्थ्य योजनाओं की जमीनी हकीकत जान सकें।
उन्होंने जिले में क्षय रोग पीडित चिन्हित तीन हजार दो सौ मरीजों को डाॅट से जोड़ने पर बल दिया इस अवसर पर बताया गया कि जिला चिकित्सालय से दो हजार तीन सौ मरीज उपचार ले रहे है शेष मरीज जो निजी चिकित्सकों से उपचार प्राप्त कर रहे है ऐसे चिकित्सकों को सूची उपलब्ध कराने हेतु लिखा जाये और उनके द्वारा 22 दिसम्बर तक सूची उपलब्ध नही कराई जाती है तो उनके पंजीयन को निरस्त करने की कार्यवाही की जायें। शासन द्वारा क्षय रोग पीड़ितों को निःशुल्क इलाज मुहैया कराया जा रहा है अतः इस बात को भी सुनिश्चित किया जायंे कि निजी चिकित्सकों द्वारा इलाज के दौरान पीडित रोगियों से दवाईयों के पैसे तो नही लिए जा रहे है उन्होंने परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत नसबंदी के लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए विशेष मेगा केम्प आयोजित करने के निर्देश भी दिए। हाल ही में शुरू की गई सरदार वल्लभ भाई पटेल निःशुल्क दवा वितरण योजना की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने आशा कार्यकर्ता के प्रशिक्षण एवं प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्र में आरोग्य केन्द्र की निर्धारित मापदण्डों के क्रियान्वयन पर बल दिया।
इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार त्रिवेदी, एसडीएम श्री अविनाश तिवारी, स्वास्थ्य विभाग, भोपाल संभाग के संयुक्त संचालक डा0एच0आर0जागडे़, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा0दीपेश वर्मा, सिविल सर्जन सह अधीक्षक डा0मंजू जैन समेत समस्त खण्ड चिकित्सा अधिकारी, सेक्टर प्रभारी मौजूद थे।

Print Friendly



    Share


Facebook Page
Power Cut
अघोषित कटौती कुल null घंटे किसी भी समय

Check Your PNR

Ganjbasoda Poll

क्या गंजबासौदा जिला बनेगा ?

View Results

Loading ... Loading ...
:: Advertisement ::
:: Advertisement ::
:: Cricket Live Score ::
RDestWeb