○ अंबेडकर चौक पर खंभे से टकराई कार, कोई हताहत नहीं। ○ यातायात पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग करने के दौरान 21 वाहनो के चालान बनाकर 3400 रुपये का जुर्माना बसूल किया ○ घटेरा में आरोग्य भारती का नि:शुल्क चिकित्सा शिविर आयोजित, बच्चों में दिखे डायबिटीज के लक्षण,250 मरीजों को मिला उपचार ○ त्योंदा रोड से श्री शांतिनाथ जैन मंदिर की स्थापना दिवस के उपलक्ष में निकला पालकी चल समारोह

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो मे कलेक्टर ने किया दौरा

By: एडिटर   8 August, 2012

विदिशा-गंजबासोदा: जिले में हुई अनवरत वर्षा के कारण नदी-नाले उफान पर होने के कारण विभिन्न क्षेत्रों में पानी भर गया था। प्रशासन द्वारा चाक चौबंद व्यवस्थाएं सुनिश्चित की और नियत स्थलों पर हिदायत के तौर पर पुलिस की तैनाती की गई हैं। कलेक्टर श्री आनंद कुमार शर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री बी०पी०चन्द्रवंशी, जिपं सीईओ श्री शशिभूषण सिंह ने प्रभावित क्षेत्रो का मौके पर जायजा लिया।

कलेक्टर श्री शर्मा ने पीडितो से कहा कि उनकी हर संभव मदद जिला प्रशासन करेगा। उन्होंने सागर पुलिया, पूरनपुरा नाला, टीलाखेड ी कॉलोनी पहुंच मार्ग नाला, ईदगाह चौराहा, बेतवा नदी चरण तीर्थ के अलावा विभिन्न वार्डो में पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया और पीडितो का हौंसला अफजाईं किया। उन्होंने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए किए पीडितो को त्वरित राहत केम्पों में पहुंचाया जायें और उन्हें आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराई जायें।

कलेक्टर श्री शर्मा ने बताया कि वर्षा उपरांत प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे किया जायेगा और पीडितो को आर०बी०सी०के प्रावधानो तहत आर्थिक मदद के साथ-साथ खाद्यान्न, केरोसिन भी प्रदाय किया जायेगा।

अपर कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार त्रिवेदी ने बताया कि वर्षा प्रभावित क्षेत्रों के पीड़ितो को तत्काल राहत केम्प में पहुंचाने की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की गई इस कार्य में स्वंयसेवी संस्थाएं और गणमान्य नागरिकों ने भी सहयोग किया। विदिशा नगर में कुल आठ राहत केम्प बनाए गए हैं जिनमें सिंधी धर्मशाला, सत्संग भवन, हरिपुरा के जैन हायर सेकेण्डरी स्कूल, नीमताल एवं माधवगंज स्कूल, भगत सिंह स्कूल, सेन्टमेरी स्कूल, जय काम्लेक्स बजरिया, इन केन्द्रो में करीब १५०० पीडितों को ठहराया गया हैं। जिन्हें रहने, खाने, सोने, पीने का पानी और दवाओं के प्रबंध जिला प्रशासन द्वारा सुनिश्चित कराए गए हैं।

जिले में वर्षा के कारण तीन ग्राम अत्याधिक प्रभावित हुए है जिनमें रंगई, पड रिया, बैरखेडी शामिल है। बैरखेडी ग्राम बारिस से सर्वाधिक प्रभावित हुआ हैं। यहां के रहवासियों, पशुओं को सुरक्षित स्थल पर पहुंचाया गया हैं। पीडितो को राहत केम्पों में पहुंचाने में भाजपा, राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ, विश्व हिन्दू परिषद के पदाधिकारियों के साथ-साथ अन्य समाजसेवियों ने इस प्राकृतिक आपदा से प्रभावितों का मनोबल बढाया और उन्हें राहत केम्पों में पहुंचाने के साथ-साथ उनकी हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।
जिले में अब तक ५७९.६ मि०मी० औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है जबकि गतवर्ष उक्त अवधि में ९४६.८ मि०मी० औसत वर्षा हुई थी।

जिले की तहसीलो में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर अब तक दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा में ८७०.० मि०मी०, बासौदा में ६१५.४ मि०मी०, कुरवाई में ५१८.४ मि०मी०, सिरोंज में ३०० मि०मी०, लटेरी में ४६२ मि०मी०, ग्यारसपुर में ६०७ मि०मी० और नटेरन तहसील में ६८५ मि०मी० वर्षा दर्ज की जा चुकी है।
मंगलवार ०७ अगस्त की सुबह ८ बजे तक दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा में ८९ मि०मी०, बासौदा में १६.४ मि०मी०, कुरवाई में १८.४ मि०मी०, सिरोंज में १० मि०मी०, लटेरी में १६ मि०मी०, ग्यारसपुर में २८ मि०मी० और नटेरन तहसील में ११ मि०मी० वर्षा दर्ज की गई है।

Print Friendly

    Share


Facebook Page
Power Cut
अघोषित कटौती कुल 1 घंटे किसी भी समय

Check Your PNR

Ganjbasoda Poll

क्या गंजबासौदा जिला बनेगा ?

View Results

Loading ... Loading ...
:: Advertisement ::
:: Advertisement ::
:: Cricket Live Score ::
RDestWeb